43.1 C
Delhi
Friday, June 14, 2024

Buy now

Adsspot_img

कोई हालत नहीं ये हालत है – Koii haalat nahiin ye haalat hai Ye to aashobhanaa soorat hai

- Advertisement -

कोई हालत नहीं ये हालत है
ये तो आशोभना सूरत है 

अन्जुमन में ये मेरी खामोशी 
गुर्दबारी नहीं है वहशत है

तुझ से ये गाह-गाह का शिकवा
जब तलक है बस गनिमत है 

ख्वाहिशें दिल का साथ छोड़ गईं
ये अज़ीयत बड़ी अज़ीयत है

लोग मसरूफ़ जानते हैं मुझे
या मेरा गम ही मेरी फुरसत है

तंज़ पैरा-या-ए-तबस्सुम में 
इस तक्ल्लुफ़ की क्या ज़रूरत है

हमने देखा तो हमने ये देखा
जो नहीं है वो ख़ूबसूरत है

वार करने को जाँनिसार आए
ये तो इसार है इनायत है

गर्म-जोशी और इस कदर क्या बात
क्या तुम्हें मुझ से कुछ शिकायत है

अब निकल आओ अपने अन्दर से
घर में सामान की ज़रूरत है 

आज का दिन भी ऐश से गुज़रा 
सर से पाँव तक बदन सलामत है

 

koii haalat nahiin ye haalat hai
ye to aashobhanaa soorat hai

anjuman men ye merii khaamoshii
gurdabaarii nahiin hai vahashat hai

tujh se ye gaah-gaah kaa shikavaa
jab talak hai bas ganimat hai

khvaahishen dil kaa saath chhoD gaiin
ye ajiiyat baDii ajiiyat hai

log masaroof jaanate hain mujhe
yaa meraa gam hii merii furasat hai

tanj pairaa-yaa-e-tabassum men
is taklluf kii kyaa jroorat hai

hamane dekhaa to hamane ye dekhaa
jo nahiin hai vo khoobasoorat hai

vaar karane ko jaannisaar aae
ye to isaar hai inaayat hai

garm-joshii aur is kadar kyaa baat
kyaa tumhen mujh se kuchh shikaayat hai

ab nikal aao apane andar se
ghar men saamaan kii jroorat hai

aaj kaa din bhii aish se gujraa
sar se paanv tak badan salaamat hai

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
14,700SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles