37.1 C
Delhi
Thursday, June 20, 2024

Buy now

Adsspot_img

NA HAARA HAI ISHQ AUR NA DUNIYA THAKI HAI Khumar Barabankvi

- Advertisement -

 

न हारा है इश्क और न दुनिया थकी है
दिया जल रहा है हवा चल रही है

सुकू ही सुकू है खुशी ही खुशी है
तेरा गम सलामत मुझे क्या कमी है

वो मौज़ूद है और उनकी कमी है
मुहब्बत भी तहाई-ए-दायमी है

खटक गुदगुदगी का मज़ा दे रही है
जिसे इश्क कहते है शायद यही है

चारागो के बदले मकान जल रहे है
नया है ज़माना नई रोशनी है

जफ़ाओ पे घुट-घुट के चुप रहने वालो
खामोशी जफ़ाओ की ताईद भी है

मेरे राह पर मुझको गुमराह कर दे
सुना है कि मंज़िल करीब आ गई है

ख़ुमार-ए-बलानौश तू और तौबा
तुझे ज़ाहिदो की नज़र लग गई है

NA HAARĀ HAI ISHQ AUR NA DUNIYĀ THAKĪ HAI

DIYĀ JAL RAHĀ HAI HAVĀ CHAL RAHĪ HAI

SUKŪÑ HĪ SUKŪÑ HAI ḲHUSHĪ HĪ ḲHUSHĪ HAI

TIRĀ ĠHAM SALĀMAT MUJHE KYĀ KAMĪ HAI

KHATAK GUDGUDĪ KĀ MAZĀ DE RAHĪ HAI

JISE ISHQ KAHTE HAIÑ SHĀYAD YAHĪ HAI

VO MAUJŪD HAIÑ AUR UN KĪ KAMĪ HAI

MOHABBAT BHĪ TANHĀ.Ī-E-DĀ.IMĪ HAI

CHARĀĠHOÑ KE BADLE MAKĀÑ JAL RAHE HAIÑ

NAYĀ HAI ZAMĀNA NA.Ī RAUSHNĪ HAI

ARE O JAFĀOÑ PE CHUP RAHNE VAALO

ḲHAMOSHĪ JAFĀOÑ KĪ TĀ.ĪD BHĪ HAI

MIRE RĀHBAR MUJH KO GUMRĀH KAR DE

SUNĀ HAI KI MANZIL QARĪB AA GA.Ī HAI

‘ḲHUMĀR’-E-BALĀ-NOSH TŪ AUR TAUBA

TUJHE ZĀHIDOÑ KĪ NAZAR LAG GA.Ī HAI

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
14,700SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles